Copyright 2018 www.indiaskk.com. Powered by Blogger.

Blogging

Love Awareness

Business Information

Motivation

Essential News

Health Awareness

Blogging

Festivals

» » The problem of Mob lynching is increasing in India. मोब लिंचिंग की समस्या भारत में निरंतर बढ़ती जा रही है

Mob Lynching की समस्या India में निरंतर बढ़ती जा रही है। इसका मुख्य कारण है बिना जाने समझे किसी भी बात पर Believe कर लेना। कोई भी Social Media का Use करके खुराफाती तत्व, इस तरह की खबरें समाज तक पहुंचाते हैं, पर इन खबरों से आपको बचना है।

What is Mob Lynching. 

भीड़ के द्वारा किसी व्यक्ति पर बिना जाने समझे, उसके साथ हिंसा करना, यह जाने बिना कि वह गुनाहगार है या नहीं। अपने तरीके से उसको सजा देना, उस व्यक्ति को इस बात का मौका ना देना कि वह कोई सफाई दे सकें, इसे Mob lynching कहते हैं। सीधी भाषा में कहें तो भीड़ के द्वारा किसी भी व्यक्ति को सजा देना या मार देना।

इस तरह की घटना को अंजाम देना कानून तोड़ना है, कानून का सम्मान ना करना और अपने मन से जो भी समझ में आए, वह करना। इससे देश का सम्मान, देश के कानून को ताक पर रखकर भीड़ के द्वारा इस तरह का निर्णय लेना निंदनीय है।

The problem of Mob lynching is increasing in India.
 Mob lynching

Use of social media for Mob lynching is fatal.

झूठी घटनाओं को समाज में फैलाने के लिए सोशल मीडिया का उपयोग होता है और लोग बिना जाने समझे इन बातों पर विश्वास करते हैं और गलत निर्णय ले लेते हैं।

कुछ गलतियां समाज के उन लोगों की है जो इस बात की तहकीकात नहीं करते, कि यह घटना या सही है या नहीं। बिना जाने समझे, इन बातों को अन्य लोगों तक पहुंचाने लगते हैं, जो की मूर्खता पूर्ण कार्य है।

इस तरह की गलत सूचना से किसी व्यक्ति की जान भी जा सकती है, और कई तरह के ऐसी घटनाएं हो सकती हैं। जिसके बारे में किसी ने सोचा भी नहीं होगा, इसलिए इस तरह की घटनाओं से बचना चाहिए।

कुछ लोग तो बिना जाने समझे, ऐसी पोस्ट शेयर करते हैं, जिससे उनको लाइक और follower बढ़े। पर वह यह नहीं समझते कि इस तरह की सूचना कितनी नुकसानदायक हो सकती है।

कानून के द्वारा इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए सोशल मीडिया, WhatsApp पर किसी भी तरह की गलत सूचना फैलाने वाले को कड़ी से कड़ी सजा दी जाएगी। जल्द ही इस तरह का कानून सरकार के द्वारा लाया जाएगा।


Such incidents happen due to the following reasons.(Mob lynching) इस तरह की घटनाएं निम्न कारणों से होती है।

अंधविश्वास blind faith

Mob lynching जैसी घटनाओं को बढ़ावा देता है, अंधविश्वास। किसी की भी बातों में आकर भीड़ बिना समझे और जाने कि सच्चाई क्या है। इस तरह की घिनौनी घटना को अंजाम दे देती है। जिससे बेकसूर लोग भी मारे जाते हैं।

अगर कोई व्यक्ति कसूरवार है, तब भी समाज को इसका अधिकार नहीं कि वह उसको सजा दें। यह अधिकार केवल कानून का है, अंधविश्वास समाज को नीचे की ओर ले जाता है। बिना जाने समझे किसी भी बात का निर्णय लेना मूर्खता होती है, इसलिए जरूरी है कि समझदार बने और अंधविश्वासों से दूर रहें।

कुरीतियां evils

भारत में आज भी ऐसी कई तरह की कुरीतियां चली आ रही हैं, जिनके कारण कई बेकसूर लोग Mob lynching जैसी घटनाओं का शिकार हो जाते हैं। समाज को एकजुट होना चाहिए, इस तरह की कुरीतियों को दूर करने के लिए, ना कि बढ़ावा देने के लिए। समाज का दायित्व है कि वह समाज में जागरूकता फैलाएं और इस तरह की निंदनीय घटनाओं को होने से रोके।

ऊंच नीच, जात पात की भावना

दुनिया 21वीं सदी मैं आ गई है और आज भी समाज में ऊंच नीच और जात पात की भावना बनी हुई है। जिसके कारण Mob lynching जैसी घटनाएं घटित होती रहती हैं। इंसान का पहला कर्तव्य है, इंसानियत। जिस व्यक्ति के अंदर इंसानियत नहीं है, वह मनुष्य कहलाने के लायक नहीं।

जात पात और ऊंच नीच जैसी बातें धार्मिक ग्रंथों में भी नहीं मिलती। भगवान कृष्ण और भगवान राम के आदर्शों से भी आप सीख सकते हैं कि जब स्वयं भगवान ने जात पात और ऊंच नीच जैसी बातों को मान्यता नहीं दी। तो एक तुच्छ मनुष्य इस तरह की बातों पर क्यों अमल करते हैं, इसलिए समाज से ऊंच नीच, जात पात जैसी भावनाओं, बातों को मिटा देना चाहिए। जिससे Mob lynching जैसी घटनाएं ना हो।



धार्मिक कारण Religious reasons

भारत धर्मनिरपेक्ष राष्ट्र है, और इसमें सभी धर्मों को समानता अधिकार दिए गए हैं। समाज अपने विचारों को किसी के ऊपर भी लाद नहीं सकता। सभी धर्म के लोगों को अपने-अपने तरह से रहने का अधिकार है। भारत में Mob lynching जैसी घटनाएं धर्म के नाम पर भी हो रही है, जिन को रोका जाना चाहिए। इसके लिए समाज के सभी उच्च वर्ग के लोगों को समाज में फैली इन बुराइयों को मिटाना चाहिए।

जागरूक ना होना Not being aware

समाज में होने वाली इस तरह की घटनाओं से बचने के लिए जागरूक होना बेहद ही जरूरी है। किसी भी व्यक्ति की बातों में ना आकर स्वयं इन बातों पर विचार करें। जिससे Mob lynching जैसी घटनाएं ना बढ़े।

इस तरह की घटनाओं से समाज गलत दिशा में जाता है, समाज को जागरुक करने का कर्तव्य हर एक व्यक्ति का होता है। समाज में जरूरी बातें हैं अच्छी शिक्षा, रोजगार, देशभक्त, समाज सेवी जैसे कार्यों में आगे बढ़ना, जिससे समाज और देश दोनों का ही नाम होगा।

Mob lynching जैसी घटनाओं को समाज से मिटाना है, जिससे खुराफाती तत्व, देश विरोधी आदमी ऐसी घटनाओं को बढ़ावा ना दे पाएं। इसमें पूरे समाज और हर एक अच्छे व्यक्ति का कर्तव्य है कि वह इस तरह की निंदनीय घटनाओं को रोकें, और समाज के सुधार के लिए कार्य करें। धन्यवाद

«
Next
Newer Post
»
Previous
Older Post

No comments:

Leave a Reply